Connect with us
#Hindi Shayari Photo

हाथ में कलम,
आंखों में ख्वाब लिए फिरता हूं।
कहानी मेरी मैं खुद लिखुगां,
कुछ गम कुछ खुशियों के पल लिखूंगा।
तकदीर में लिखा कौन बदलेगा,
जब मेरी किस्मत मैं खुद लिखुगा।