Connect with us

Khamoshi Ke Alfaz Hindi sad Shayari Collectoin 2020

Khamoshi Ke Alfaz Hindi sad Shayari Collectoin 2020

बीते दिन अब कभी लौट कर ना आयेंगे,
हम कौन से ज़िन्दा हैं कि इस ग़म में मर जायेंगे।

Khamoshi Ke Alfaz Hindi sad Shayari Collectoin 2020

तेरी महेफिल से उठे थे किसी को खबर तक ना थी
बस तेरा मोड़ मोड़ कर देखना हमें बदनाम कर गया

अपनी अच्छाई पर क्या गुरूर करु
किसी की कहानी में सायद में भी गलत हूँ

उसे अपनी मोहब्बत जताने के लिए
हमने न जाने कितने शेर लिख दिए जमाने के लिए

हँसकर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर थी मेरी,
पर कोई हुनर काम नहीं आता जब तेरा नाम आता है |

जो कल तक अपना था वो आज अजनबी है
क्या करूँ यार मेरा यार मतलबी है

इस समझदारी से लाख गुना बेहतर था बचपन
जहाँ हम खिलौनो से खेलते थे दिलो से नहीं

अब छोड़ो वफाओ के किस्से ये तो न जाने कितनो का रोना है,
पहले कोन था साथ हमारे और अब कोन अपना होना है।

तुझे दर्द देने का शौक था बहुत,
हमे भी दर्द सहने का शौक था बहुत।

जरा ख्याल की जिए मर न जाऊँ कहीँ,
बहुत जहरीली है तेरी ख़ामोशी मैं पी न जाऊँ कहीँ।

हमे इतना वक्त ही कहाँ की हम मौसम सुहाना देखे,
जब तेरी याद से निकले तभी तो मौसम सुहाना देखे।

हमको दीवाना कर दिया एक नजर देख कर,
हम कुछ भी न कर सके बार बार देख कर।

चुप रह कर भी कह दिया सब कुछ ये मेरा सलीका था,
और तुम सुनकर भी समझ नही पाए ये उनका प्यार था।

Read More Shayari

  1. Best Love Shayari Quotes
  2. WhatsApp status
  3. Latest 2 lines Shayari
  4. Best Pot Good Night Shayari’S
  5. Friendship Shayari’s
  6. More Shayari

Join a Social Media ➥ WhatsApp Grup | Fb Page FB Group  | Twitter  | Telegram | Instagram


Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Trending

#2 Line Shayari Gujarati Shayari Sad Shayari

દિલ ને તો ખબર જ હતી
પણ આંખો રડી ને થાકી તારી રાહ માં.

નિલેશકુમાર
#Hindi Shayari Photo Holi Special SMS Love Shayari whatsapp status

Zindagi Ka Afasana True Love Hindi Shayari
प्यार तो जिंदगी का एक अफसाना है,
इसका अपना ही एक तराना है,
सबको मालूम है कि मिलेंगे सिर्फ आंसू,
पर न जाने क्यों, दुनियां में हर कोई इसका दीवाना है ….!

#2 Line Shayari Gujarati Shayari Love Shayari whatsapp status

samay viti gayo laganima haji bhej chhe,
lakh nava sabandh bane pan tari jagya e j chhe.